love tips, healths tips, new launch mobile news, latest mobile, latest tech news, new knownledges,tech news

Breaking

Sunday, April 26, 2020

TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA (HEART TOUCH STORY)


तुझे भुला नही बस याद नही करता (HEART TOUCHING)

Tujhe bhula nahi bas yaad nahi karta, adhuri kahani
TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA (HEART TOUCH STORY)

प्यार का मलतब साथ होना ही नही होता है, दूर रहकर अगर एक दुसरे के लिए प्यार जिंदा है तो वो है वास्तविक में सच्चा प्यार। ये कहानी है ऐसे दो प्रेमी-प्रेमिका की जिसने प्यार कर लिया लेकिन साथ नही मिला एक दुसरे का। कहानी बहुत ही अच्छी है दिल को छू लेने वाली है। इसलिए मेरा अनुरोध है कि सभी प्रेमी-प्रेमिका इसे पढ़ते और ईमानदारी से प्यार करते रहें।



AGAR TU HOTA TO NA ROTE HAM

कहानी अनुबंधकर्ता

चरित्र : रेहान और इशु
लेखक : पुनीत

हीलो दोस्तों मेरा नाम रेहान है और मै लखनऊ से हूँ। ये मेरी प्यार की कहानी है जिसे newgenerationsknownledges.com पर शेयर कर रहा हूँ और मुझे विश्वास है मेरी प्रेम कहानी पसंद आयेगी। जब मुझे प्यार हुआ था उस वक़्त मै 15 साल का था इसलिए इस बात से मै इत्तेफाक नही रखता की मुझे प्यार की समझ होगी।

जिस लड़की से मुझे प्यार हुआ उसका नाम इशिका है जिसे मै प्यार से इशु बोलता हूँ। वो भोत प्यारी है बिलकुल अपने नाम की तरह और उसमे एक गुण ऐसा है जिसकी वजह से मै उसे चाहकर भी कभी भूल नही सकता और वो गुण है वो मुझे भोत अच्छी तरह समझती है मुझे कब क्या चाहिए उसे पता चल जाता है। मै जो भी कुछ सोचता वो समझ जाती थी जबकि ये सच है ये इतना तो मेरे माता-पिता भी मुझे नही समझते।

जितना प्यार में उससे करता था वापस मुझे उससे ज्यादा प्यार मिलता था। मेरी इशु हजारों में नही करोड़ों में एक है। क्या कहू उसके बारे में बस इतना कह सकता हूँ खुदा ऐसे इंसान को एक मुद्दत के बाद ही बनता है। इशु और मै एक ही स्कूल में पढ़ते थे और एक ही कक्षा में थे। अब मै अपनी कहानी शुरू से बताता हूँ जब मुझे उससे और इशु को मुझसे प्यार हुआ था।

पहली बार लड़की से कैसे बात करे और किया करे

स्कूल के दिन जब हम प्यार में पड़े थे

TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA, pyar ki kahani
TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA (HEART TOUCH STORY)
हम दोनों पहली मुलाकात से ही अच्छे दोस्त रहे है इसलिए एक-दुसरे के काफी क्लोज थे हम दोनों। मुझे इशु भोत अच्छी लगती थी, मेरा दिल करता था हमेशा उसके साथ रहू और उससे बातें करू। फिर अचानक मेरी ही कक्षा का एक लड़का इशु के क्लोज हो रहा था हमेशा उससे बातें करने की कोशिश करता और ये सब देख कर मुझसे रहा नही जा रहा था। मुझे चोट लगती थी और जलन महसूस होती थी।

जैसा मैंने कहा इशु मुझे भोत समझती थी। उसे इस बात का भी पता चल गया था और एक दिन इशु ने मुझसे कहा अब तुम बतायोगे दिल में तुम्हारे जो चल रहा है या मै खुद बोल दूं। फिर हम दोनों की बातें होती है कुछ इस तरह............

इशु : बदले-बदले से लग रहे हो आज कल।
रेहान : ऐसी कोई बात नही है।
इशु : कोई बात तो है तुम परेशान से दिख रहे हो कुछ दिनों से। तुम बोलेगे या मै ही बोल दूं।
रेहान : अगर तुम सच में जानती हो और समझ चुकी हो तो बोलो ऐसी कोन-सी बात है जो मुझे परेशान कर रह है।
इशु : मै जानती हूँ मै और रितेश आज कल साथ में समय बिता रहे है। यही देखकर तुमे बुरा लग रहा है........... क्या मैं सही हूँ ?

रेहान : हां........... लेकिन कैसे पता चल जाता था तुम्हे सब कुछ।
इशु : क्युकी मै तुम्हे पसंद करती हूँ।
रेहान : नही तुम जाओ अपने रितेश के पास।
इशु : गुस्सा क्यों हो रहे हो रितेश पागल लड़के की तरह है उसके साथ मै सिर्फ समय बिता रही थी क्योकि मुझे जानना था की तुम मुझे पसंद करते हो या नही और मुझे मेरा प्लान काम कर गया।
रेहान : अच्छा तो ये सब तुम्हारा एक प्लान था, हाँ ये सच है इशु मै तुम्हे भोत पसंद करता हूँ कोई दूसरा लड़का तुमसे बात भी करता है तो मुझे भोत बुरा लगता है। मै नही देख सकता तुम....... किसी और जी हो। इसलिए मुझे जलन महसूस होती थी जब तुम रितेश के साथ रहती थी।
इशु : सॉरी बाबु, तुम्हे दुखी करने का इरादा नही था मै बस इतना जानना चाहती थी की क्या तुम भी....... मेरे बारे वो सोचते हो हो जो मै सोचती हूँ।
रेहान : चुप रहो भोत रुलाया तुमने मुझे, अब ऐसा मत करना I Like You और I Love You so much
इशु : Love You too and M extremely sorry. अब तुम्हे कभी भी कोई तकलीफ नही दूंगी वादा करती हूँ।
रेहान : तो अब Bf & Gf है ना हम दोनों ?
इशु : हा
रेहान : अच्छा सुनो परसों वैलेंटाइन डे है मै तुम्हारे लिए एक अच्छा-सा गिफ्ट लूँगा।
इशु : क्या लाओगे मेरे लिए बताओ ना प्लीज।
रेहान : बिल्कुल नहीं........... जब दूंगा तो देख लेना।
इशु : नही नही अभी बताओ ना प्लीज।
रेहान : ना ना................
इशु : मुझे तंग करते हो देख लेना अगर मै नही रही तो रोवोगे।
रेहान : अच्छा छोड़ो ये सब और ये बताओ तुम मेरे लिए क्या लोगी।
इशु : लुंगी क्या मै पहले से ही ले चुकी हूँ, लेकिन वो अभी निधि के पास है।
रेहान : मेरा गिफ्ट और निधि के पास ऐसा क्यों।
इशु : क्युकी वो मै अपने घर नही रख सकती तुमे पता है ना मम्मी- पापा कितने अपरिवर्तनवादी है अगर किसी ने देख लिया तो तमाशा बन जायेगा।
रेहान : ओह........ स्मार्ट लड़की।
इशु : हा, वो तो मै हूँ।
रेहान : मै उत्साहित हूँ ऐसी कोन सी चीज़ है बताओ ना।
इशु : जब दूंगी तब पता चल जायेगा।
रेहान : इशु
इशु : हां जी बोलो
रेहान : देख लेना मै एक बेस्ट बॉयफ्रेंड बनूँगा सिर्फ तुम्हारे लिए।
इशु : मुझे पता है इसलिए इतनी मेहनत की तुम्हे पाने के लिए। पता है रेहान जब मै सोचती थी की मेरा राजकुमार कोन होगा तो उस वक़्त मुझे सिर्फ तुम्हारा चेहरा नजर आता था उसी वक़्त सोच लिया था अगर किसी को बॉयफ्रेंड बनाउंगी तो सिर्फ तुम्हे।
रेहान : मै भोत सौभाग्यशाली हूँ मुझे ऐसी गर्लफ्रेंड मिली जो मेरी देखभाल करती है माता-पिता के तरह।
इशु : हां हमेशा इसी तरह साथ रहेंगे ना।
रेहान : हां तो और क्या।

हम दोनों खुश थे एक दूजे का प्यार पाकर और वैलेंटाइन डे का इंतज़ार कर रहे थे बेचैनी के साथ। मै अच्छा गिफ्ट ही नही ले पा रहा था। कोई गिफ्ट सोचता फिर दूसरा फिर दूसरा कोई गिफ्ट ही समझ नही आ रहा था जो मै इशु को दूं।

फिर मैंने सोचा कोई मार्किट का गिफ्ट नही दूंगा उसे मै ऐसी चीज़ दूंगा जिसे मै खुद की मेहनत से अपने हाथों से बनाओ। फिर आखिरकार मैंने वो गिफ्ट पूरी तरह से बना लिया और अब सिर्फ इंतज़ार था कल का। जब मै इशु से अपने फर्स्ट वैलेंटाइन डे पर मिलूँगा।

वेलेंटाइन डे प्यार और उम्मीद के साथ आता है

TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA, sad story
TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA (HEART TOUCH STORY)
हम दोनों ने एक दुसरे से वादा किया था वैलेंटाइन डे के दिन स्कूल के पास वाले होटल पर मिलेंगे फिर सारा दिन साथ में समय बितायेगे। मै टाइम पर पहुँच गया मगर वहा मुझे इशु कही नही दिखी।

मै उस वक़्त कुछ कर सकता था तो सिर्फ इंतज़ार और वही करता रहा जब तक इशु  आ नही जाती। 2 – 3 घंटे गुजर गए मगर उसका कोई पता नही चला और मै इंतज़ार करता रहा और इस तरह शाम हो गई मगर वो नही आई।
अब मै दर चूका था क्युकी ऐसा वो कर ही नही सकती और मैंने सोचा जरूर वो किसी परेशानी में होगी।
फिर मै अपने घर निरास होकर चला गया और उसकी फिक्र करने लगा, फिर जब मै स्कूल गया वहा भी इशु नही मिली।

फिर निधि मेरे पास आती है इशु का मेसेज लेकर मेरे लिए क्युकी निधि को सब कुछ पता था।
निधि : पहले तुम ये गिफ्ट लो इशिका ने कहा था तुम्हे देने के लिए।
रेहान : पहले तुम मुझे बताओ इशु कहा है और कैसी है।
निधि : एक परेशानी हो गई है इशिका के पापा को तुम्हारे और इशु के बीच में जो प्यार चल रहा है उसका पता उन्हें चल गया है फिर वो इशिका को अपने साथ दिल्ली ले गए और उसने अपना ट्रान्सफर भी वही करा लिया अब इशिका वही रहेगी।
रेहान : ऐसा कैसा हो सकता है हमारे साथ, हमने कोई गलती तो नही की। अच्छा सुनो मेरे लिए कोई मेसेज है इशु का।
निधि : सिर्फ ये गिफ्ट ही है, जिसमे मेसेज भी है और समझ लो जब कुछ है।
रेहान : थैंक्स और अगर इशु के बारे में कुछ भी पता चले तो प्लीज मुझे बता देना।

तुझे भुला नही बस याद नही करता

TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA, sad story
TUJE BHULA NHI BAS YAAD NHI KARTA (HEART TOUCH STORY)
दोस्तों अगर कोई जीने की वजह हो और जिदिंगी से चला जाए तो कैसा फील होता है इस फीलिंग को मुझसे अच्छा सायद ही कोई समझेगा क्युकी मै अपनी इशु को खो चूका हूँ। वो मेरे लिए सब कुछ थी। उसे मै भुला ही नही पा रहा हूँ और ये सच है याद नही करना चाहता उसे जब भी याद आती है तो दिल को भोत तकलीफ होती है। यही थी मेरी प्यार की कहानी और मुझे यकीन है हम फिर जरूर मिलेंगे।
अगर आपको रेहान की प्रेम कहानी अच्छी लगे तो दोस्तों के साथ शेयर करे और अप अपना ओपिनियन हमें कमेंट करके भी बता सकते है।

पढ़ने के लिए धन्यवाद

2 comments:

Please do not enter ant spam link in the comment box

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();